कांग्रेसियों ने किया पंडित नारायण दत्त तिवारी को याद

देहरादून। उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में कांग्रेसजनों ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं उत्तराखण्ड प्रदेश के प्रथम निर्वाचित मुख्यमंत्री स्व0 नारायण दत्त तिवारी की जयंती एवं पुण्य तिथि पर उन्हें श्रद्धापूर्वक याद करते हुए उनके चित्र पर माल्यापर्ण कर उन्हें अपने श्रद्धासुमन अर्पित किये।
इस अवसर पर प्रदेश महामंत्री विजय सारस्वत ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री स्व0 नारायण दत्त तिवारी जी को देवभूमि उत्तराखण्ड की नींव रखने का सौभाग्य प्राप्त हुआ था तथा उनके द्वारा उत्तराखण्ड राज्य की जो मजबूत नीव रखी गई उस पर आज एक इमारत खड़ी हो पाई है। उन्होंने कहा नारायण दत्त तिवारी जी के मुख्यमंत्रित्व काल में राज्य में विभागों का ढांचा तैयार कर विकास की बुनियाद डाली तथा 900 करोड़ की वार्षिक योजना का आकार बढ़ाकर 5000 करोड़ तक पहुंचाया। राज्य में औद्योगिक क्षेत्रों को विकसित कर राज्य के बेरोजगार नवयुवकों के लिए रोजगार सृजन करने का काम किया। उनके मुख्यमंत्रित्वकाल में टिहरी बांध, मनेरी भाली, धौली गंगा जल विद्युत परियोजनाओं का काम पूरा कर राज्य को विद्युत उत्पादन के क्षेत्र मंे आत्म निर्भर करने का काम किया। राज्य की शिक्षा व्यवस्था में अमूल चूल परिवर्तन कर एलटी के पदों पर नियुक्ति प्रक्रिया शुरू कर शिक्षा व्यवस्था को पटरी पर लाने का काम किया। स्व0 नारायण दत्त तिवारी जी ने केन्द्रीय मंत्रिमण्डल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री व उत्तराखण्ड राज्य के प्रथम निर्वाचित मुख्यमंत्री के रूप में देशवासियों को जो सेवायें दी हैं उनके लिए उन्हें सदैव याद किया जाता रहेगा। श्रद्धांजलि देने वालों में प्रदेश महामंत्री विजय सारस्वत, प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, पूर्व विधायक राजकुमार, प्रदेश महामंत्री राजेन्द्र शाह, पूर्व मीडिया प्रभारी राजीव महर्षि, पूर्व मंत्री अजय सिंह, प्रदेश सचिव कमर खान ताबी, डाॅ0 विजेन्द्र पाल सिंह, अर्जुन सोनकर, राजेश चमोली, भरत शर्मा, संदीप चमोली, पुष्कर सारस्वत, विकास नेगी, मंजू त्रिपाठी, डाॅ0 प्रतिमा सिंह, अभिनन्दन शर्मा, एस.पी. बहुगुणा, अजय रावत, सूर्यप्रताप राणा, मो0 सालिम, महेश जोशी, नागेश रतूड़ी, नवनीत कुकरेती, आदर्श सूद, पुनीत कुमार, नीरज नेगी आदि शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here