प्रधानमंत्री केयर फंड में दी 1.42 करोड़ रुपए की सहयोग राशि

देहरादून। हरिद्वार स्थित योगमाता फाउंडेशन की महामंडलेश्वर योगमाता कीको आईकावा व महामंडलेश्वर पायलट बाबा ने कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से लड़ने के लिए प्रधानमंत्री केयर फंड में 1.42 करोड़ रुपए की सहयोग राशि दी है। प्रदेश भाजपा अब तक पार्टी कार्यकर्ताओं के सहयोग से पीएम केयर फंड में लगभग 7 करोड़ की धनराशि जुटा चुकी है।

प्रदेश भाजपा के मीडिया प्रभारी अजेंद्र अजय ने बताया कि महामंडलेश्वर कीको अईकावा व महामंडलेश्वर पायलट बाबा द्वारा पीएम केयर फंड में 1.42 करोड़ की धनराशि का सहयोग किया गया है। ऑनलाइन जमा की गई इस सहयोग राशि की रशीद भाजपा के प्रदेश महामंत्री (संगठन) अजेय व प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार द्वारा मुख्यमंत्री  त्रिवेंद्र सिंह रावत को सौंपी गई। इस अवसर पर भाजपा हरिद्वार के जिला अध्यक्ष डॉ जयपाल सिंह भी मौजूद थे।

उन्होंने बताया कि प्रदेश भाजपा द्वारा लगातार पार्टी कार्यकर्ताओं के माध्यम से पीएम केयर फंड में खुद भी सहयोग करने और अन्य लोगों को प्रेरित करने के लिए विशेष अभियान चलाया गया है। इस अभियान के दौरान अब तक पार्टी कार्यकर्ताओं के सहयोग से लगभग 7 करोड़ रुपए की धनराशि प्रधानमंत्री केयर फंड में भिजवाई गई है।

उन्होंने बताया कि भाजपा द्वारा केंद्रीय नेतृत्व के निर्देश पर लॉक डाउन के दौरान जरूरतमदों की मदद के लिए चलाए जा रहे अभियान में गुरुवार तक पार्टी कार्यकर्ताओं ने 14,80,867 भोजन पैकेटों का वितरण किया है। इसके साथ ही 1,58,197 पैकेट सूखे राशन व अन्य जरूरी सामग्री के वितरित किए गए हैं। विभिन्न स्थानों पर मोदी किचन व मोदी रसोई संचालित की जा रही हैं। पार्टी की महिला कार्यकत्रियों द्वारा व्यापक स्तर पर घर में फेस कवर तैयार कर वितरित किए जा रहे हैं।

मीडिया प्रभारी अजेंद्र ने भाजपा के इस अभियान के आंकड़ों को लेकर कांग्रेस द्वारा सवाल उठाए जाने को उसकी नकारात्मक सोच बताया। उन्होंने कहा कि भाजपा ऐसी आपदा के समय में संकीर्ण राजनीति करने में विश्वास नहीं करती है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष  प्रीतम सिंह को चाहिए कि वे खुद आकर देखें – समझें कि भाजपा किस तरह से सेवा कार्यों में जुटी है और फिर वो कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ताओं को भी इस तरह से कार्य करने की प्रेरणा दें।

इधर, भाजपा के प्रदेश महामंत्री  कुलदीप कुमार ने आज पार्टी द्वारा जिलों में संचालित कंट्रोल रूम के प्रभारियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बात की। उन्होंने जिलों में संचालित कंट्रोल रूम की अब तक की गतिविधियों की समीक्षा की। उन्होंने प्रभारियों को निर्देश दिया कि वे कंट्रोल रूम में आने वाली समस्याओं को सुलझाने में तत्परता से कार्य करें। जिले स्तर की समस्याओं को स्थानीय प्रशासन व विधायक – मंत्रियों के माध्यम से और प्रदेश अथवा प्रदेश से बाहर की समस्याओं को प्रदेश कंट्रोल रूम तक पहुंचाएं। इस मौके पर प्रदेश कार्यालय प्रभारी व प्रदेश कंट्रोल रूम प्रभारी  कौस्तुभा नंद जोशी भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here