बंद पड़ी सड़कों को खोलने में जुटा लोनिवि

देहरादून। बारिश व भूस्खलन के कारण देहरादून जिले के अंतर्गत 16 सड़कें अवरुद्ध हैं। इन सड़कों में 15 सड़कें लोक निर्माण विभाग की हैं जबकि एक सड़क एडीबी की है। लोक निर्माण विभाग अवरुद्ध सड़कों को खोलने में युद्धस्तर पर जुटा हुआ है। विभाग द्वारा सड़कों को खोलने के लिए 23 जेसबी लगाई गई हैं।
उत्तराखंड में बारिश व भूस्खलन के चलते कई मोटर मार्ग अवरुद्व हो गए हैं। मार्गों पर भूस्खलन के चलते जगह-जगह पर मलबा आ रखा है, जिस कारण यातायात बाधित है। मार्ग बाधित होने से लोगों कों खासा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। मार्ग बाधित होने से लोगों को अपने गंतव्य तक पहुंचने में कई किमी की पैदल दूरी तय करनी पड़ रही है। कई सड़कें ऐसी हैं जब तक एक जगह से मलबा हटाया जा रहा है तब तक दूसरी जगह पर मलबा आ जा रहा है। ऐसे में विभाग को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। देहरादून जिले के अंतर्गत 16 सड़कें अवरुद्ध हैं। इन सड़कों में 15 सड़कें लोक निर्माण विभाग की हैं जबकि एक सड़क एडीबी की है। अवरुद्ध मार्गों में निर्माण खंड देहरादून का यमुनापुल-हाथीपांव मार्ग, अस्थायी खंड कालसी के कालसी-चकराता मार्ग, हरिपुर-इच्छाड़ी मार्ग, मीनस-अटाल मार्ग, कालसी-बैराटखाई मार्ग, शंभू की चैकी मार्ग, ड्यूडलानी-ढलानी मार्ग, गास्की मार्ग, महासू देवता मार्ग, बोसान मार्ग, साहिया-समाल्टा मार्ग और लोनिवि अस्थायी खंड चकराता का राठा-जाखणी मार्ग व लोनिवि एडीबी का लोदन बैंड बबलीधार मार्ग शामिल हैं।लोक निर्माण विभाग अवरुद्ध सड़कों को खोलने में जी-जान से जुटा हुआ है। विभाग द्वारा सड़कों को खोलने के लिए 23 जेसबी लगाई गई हैं। विभाग की कोशिश है कि बंद पड़े मार्गों को यथाशीघ्र खोला जा सके। लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता वीएन चोधरी ने बताया कि विभाग बंद पड़े मार्गों को खोलने में जुटा हुआ है। उनका कहना है कि अवरुद्ध मार्गों को शीघ्र खोल दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here