जो जहां है वहीं रहे, प्रशासन करेगा व्यवस्था  

देहरादून। कोरोना वायरस कोविड-19 की रोकथाम एवं प्रभावी नियंत्रण तथा लाॅक डाउन के दौरान जनपद में वर्तमान समय में अन्य प्रदेशों राज्यों के प्रवासी लोग, यात्री तथा ऐसे लोगों जो राज्य के दूसरे जनपदों से देहरादून में लाॅक डाउन के कारण अपने गंतव्यों तक नही पंहुच पाये हैं से अनुरोध किया कि वे जहां हैं वहीं रहें यदि किसी के पास भोजन एवं रहने की व्यवस्था नही है तो जिला प्रशासन द्वारा जनपद में चिन्हित स्थानों यथा विभिन्न स्कूलों विद्यालयों में स्थान ऐसे लोगों की सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) का पालन करवाते हुए रहने एवं भोजन की व्यवस्था की जायेगी। जिलाधिकारी ने अवगत कराया है कि जनपद में संचालित समस्त एनजीओ के द्वारा उपलब्ध करायी जाने वाली खाद्य सामग्री राशन को सीधे किसी व्यक्ति विशेष को हस्तान्तरित ना करते हुए प्रशासन के माध्यम से अपने-अपने क्षेत्रान्तर्गत थानों में पुलिस द्वारा वितरित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि जनपद में निवासरत् समस्त पात्र व्यक्तियों  को खाद्य सामग्री पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की देख-रेख में वितरित किया जायेगा।
जिलाधिकारी ने अवगत कराया है कि अन्य प्रदेशों से उत्तराखण्ड निवासियों का आना जारी है जिनको चिकित्सकीय पर्यवेक्षण में क्वारेंटाइन में रखे जाने की आवश्यकता है। होटल ग्राण्ड लीगेसी लालपुल देहरादून 20 कमरे, होटल पदमिनी 25 कमरे तथा स्वामी राम साधक ग्राम ऋषकेश 40 में कमरें, का अधिग्रहण किया गया है। इसी के साथ संक्रमित व्यक्तियों के चिकित्सकीय पर्यवेक्षण में क्वारेंटाइन में रखे जाने हेतु कराबी हाउस कण्डोली 56 कमरे, अरावली कण्डोली 84 कमरे, एवन स्काॅलरहोम कण्डोली 90 कमरे, आर्शीवाद होम बिधौली 79 कमरे, अग्रसेन विला बिधौली 75 कमरे, सीमा डेन्टल काॅलेज बीरपुरखुर्द्ध ऋषिकेश 250 कमरे हैं को अधिग्रहण किया गया है।
जिलाधिकारी ने अवगत कराया है कि कोरोना वायरस की रोकथाम सम्बन्धी कार्यवाही विभिन्न स्तरों पर गतिमान है तथा इस दौरान विभिन्न कार्यों के सम्पादन हेतु वाहनों की आवश्यकता के चलते वाहनों के अधिग्रहण हेतु मुख्य विकास अधिकारी को वाहनों के अधिग्रहण हेतु नोडल अधिकारी नामित किया गया है तथा ऋषिकेश क्षेत्र के लिए अनिता चमोला, सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी तथा विकासनगर के लिए  रत्नाकर परिवहन कर अधिकारी प्रथम को नोडल अधिकारी नामित किया गया है। जिलाधिकारी ने नामित दोनों नोडल अधिकारियों को परिवहन व यातायात सम्बन्धी व्यवस्थाओं के लिए नियमित सम्पर्क में बने रहने के निर्देश दिये।
शासन के निर्देशों के अनुपालन में  जिलाधिकारी ने अवगत कराया है कि जनपद के अन्तर्गत पर्वतीय क्षेत्रों में उत्पादित सेब, आडू, खुमानी आदि फलों तथा मैदानी क्षेत्रों में आम, लीची के बगाने में फ्लावरिंग का कार्य तथा हल्दी, अदरक बुआई, पौध सुरक्षा एवं सब्जी पौधे के रोपण का कार्य गतिमान होने के दृष्टिगत मौन पालकों के मौनवंशों के माइग्रेशन एवं मशरूम उत्पादन की बिक्री में लोडिंग, अन लोडिंग में प्रयुक्त होने वाले वाहन एवं श्रमिक, समस्त कीट वधी नाशक रसायनों के साथ-साथ हल्दी एवं अदरक की ढुलाई में प्रयुक्त होने वाले वाहन एवं श्रमिक जनपद में स्थापित उद्यान सचल दल केन्द्रों, राजकीय उद्यानों में  अनिवार्य औद्यानिक क्रियाकलापों के संचालन हेतु विभागीय कार्मिक श्रमिक तथा प्रयुक्त होने वाले वाहन, राजकीय उद्यानों की बागवहार की नीलामी व निस्तारण में प्रतिभाग करने वाले ठेकेदार एवं सम्बन्धित तथ प्रयुक्त होने वाले वाहनों को आवश्यक छूट प्रदान की गयी है। जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने अवगत कराया है कि कोरोना वायरस कोविड-19 संक्रमण की वर्तमान स्थिति को देखते हुए जनपद आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण के अधीन पूर्व गठित आईआरएस की तर्ज पर ब्वअपक-19 त्मेचवदेम ज्मंउ  का गठन किया गया है। जनपद देहरादून के अन्तर्गत प्रत्येक विकासखण्ड में अतिरिक्त रेपिड रिसपोंस टीम का गठन किया गया है। गठित टीमों में प्रत्येक विकासखण्ड में 2, नगर पलिका में  3 तथा नगर निगम में 5 अधिकारी तैनात किये गये हैं, जो अपने-अपने क्षेत्रों में होम क्वारेंटाइन में रखे गये नागरिकों की दैनिक स्वास्थ्य माॅनिटिरिंग की सूचना संकलित कर कन्ट्रोलरूम को उपलब्ध करायेगे। उक्त टीमों की दैनिक गतिविधियां अनुश्रवण कार्य से प्राप्त सूचना अनुसार कान्टेªक्ट टेªसिंग कार्यों की निगरानी हेतु प्रवीन गोस्वामी जिला सेवायोजन अधिकारी देहरादून को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here