कोरोना के वैश्विक संकट में जोशी निभा रहे अपनी जिम्मेदारी

देहरादून। कोरोना महामारी एक ऐसी त्रासदी के रूप में दुनिया के सामने आयी, जिसने एक तरह से सबको अपाहिज व मजबूर बना दिया। अप्रत्याशित रूप से पूरे विश्व को अपनी चपेट में लेने वाली इस महामारी ने कई नए अनुभव व सबक दुनिया के सामने रखे।

उत्तराखंड के संदर्भ में बात की जाए तो लॉक डाउन के दौरान एक ओर जहां प्रदेश में जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए तमाम लोग उठ खड़े हुए, वहीं कुछ लोग राजनीति करने से भी बाज नहीं आए। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, भाजपा जैसे तमाम राष्ट्रवादी संगठन इस दौरान तन मन धन से सेवा कार्यों में पूरी तन्मयता के साथ जुटे हुए हैं।

उत्तराखंड की भाजपा इकाई ने लॉक डाउन के दौरान बुजुर्गों, गरीबों व जरूरतमंदों की मदद के लिए लगातार भोजन, राशन व अन्य जरूरी सामग्री पहुंचाने के लिए एक विशेष अभियान शुरू किया है। इस अभियान को गति ,देने के लिए भाजपा ने सभी जिला मुख्यालयों समेत प्रदेश मुख्यालय में कंट्रोल रूम की स्थापना की।

भाजपा ने प्रदेश मुख्यालय पर स्थापित कंट्रोल रूम का जिम्मा प्रदेश कार्यालय सचिव कोस्तुभानंद जोशी को सौंपी। जोशी संघ बैक ग्राउंड से हैं। उन्हें ज़मीनी स्तर पर कार्य करने का व्यापक अनुभव है। सरल व सौम्य स्वभाव के जोशी ने प्रदेश कंट्रोल रूम की जिम्मेदारी को बहुत संवेदनशीलता के साथ निभाया।

देश के विभिन्न राज्यों और प्रदेश के जिलों से आ रही शिकायतों के त्वरित निस्तारण के लिए उन्होंने हर माध्यम का प्रयोग किया। संगठन व सरकार स्तर पर हल होने वाली समस्याओं को उन तक पहुंचाया। लॉक डाउन के दौरान जब सारे लोग अपने घर – परिवार के साथ रह रहे थे अथवा जद्दोजहद में जुटे थे, उस वक्त भी जोशी ने भाजपा प्रदेश कार्यालय में ही रह कर कंट्रोल रूम की जिम्मेदारी को चौबीसों घंटे निभाई।

7 COMMENTS

  1. People who worry a lot have more pain and swelling in their joints than those who take things in stride. doxycycline online falciparum malaria, doxycycline has been shown to be equivalent to mefloquine and AP and superior to azithromycin and chloroquine- proguanil.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here