छह चौकी प्रभारियों को किया लाइन हाजिर

देहरादून। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने सभी थाना व चौकी प्रभारियों को पीक आवर्स के दौरान अपने अपने थाना व चौकी क्षेत्रान्तर्गत के यातायात दबाव वाले क्षेत्रों में स्वयं उपस्थित रहकर यातायात व्यवस्था का सुचारू संचालन सुनिश्चित करने के निर्देश थे। यही नहीं इस दौरान कंट्रोल रूम को सभी थाना व चौकी प्रभारियों की नियमित रूप से लोकेशन लेते हुए जानकारी देने के लिए कहा गया था। करनपुर, सर्किट हाउस, नयागांव, आईएसबीटी, जोगीवाला व इंदिरा नगर चौकी प्रभारी से कंट्रोल द्वारा उनकी लोकेशन पूछे जाने के दौरान न तो कंट्रोल रूम को अपनी लोकेशन से बताई और न ही उनके द्वारा सेट पर कोई उत्तर दिया गया। जिसका संज्ञान लेते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा उक्त सभी चौकी प्रभारियों को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर किया गया है।
सएसपी के आदेश के बावजूद शाम के पीक आवर्स के समय कंट्रोल रूम से बार-बार लोकेशन पूछे जाने के बावजूद यह चौकी प्रभारी अपनी लोकेशन नहीं बता रहे थे। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस कप्तान ने तुरंत एक्शन लेते हुए करणपुर, सर्किट हाउस, नयागांव, आईएसबीटी, जोगीवाला और इंदिरा नगर के चौकी प्रभारियों को एक साथ लाइन हाजिर कर दिया है। इस कार्रवाई से पूरे पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। कप्तान का साफ तौर पर कहना है कि अपनी जिम्मेदारी से बचने वाले पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को किसी भी प्रकार से बक्शा नहीं जाएगा उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा सभी थाना व चौकी प्रभारियों को पीक आवर्स के दौरान अपने अपने थाना/ चौकी क्षेत्रान्तर्गत के यातायात दबाव वाले क्षेत्रों में स्वयं उपस्थित रहकर यातायात व्यवस्था का सुचारू संचालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए है, साथ ही इस दौरान कंट्रोल रूम को सभी थाना व चौकी प्रभारियों की नियमित रूप से लोकेशन लेते हुए अवगत कराने हेतु बताया गया है।
कंट्रोल रूम द्वारा थाना व चौकी प्रभारियों की लोकेशन पूछे जाने के दौरान नगर क्षेत्र में चौकी प्रभारी करनपुर, सर्किट हाउस, नयागांव,, आईएसबीटी, जोगीवाला तथा इंदिरा नगर द्वारा न ही कंट्रोल रूम को अपनी लोकेशन से अवगत कराया गया और न ही उनके द्वारा सेट पर कोई उत्तर दिया गया।
पुलिस के अनुसार जिसका संज्ञान लेते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा उक्त सभी चौकी प्रभारियों को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर किया गया है। साथ ही सभी थाना व चौकी प्रभारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि लापरवाही व अनुशासनहीनता को किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।