रेखा ने दिए अधिकारियों को कार्यप्रणाली में सुधार लाने के निर्देश

अल्मोड़ा। विकास कार्यों को धरातल पर उतारने के लिए अधिकारी पूर्ण मनोयोग से कार्य करना सुनिश्चित करें। साथ ही जनप्रतिनिधियों के साथ संवाद कायम रखा जाय जिससे विकास कार्यों को गति मिल सके। विकास कार्यों की विकास भवन में समीक्षा करते हुए मा0 महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास राज्यमंत्री रेखा आर्या ने उक्त निर्देश अधिकारियों को दिये।
विधानसभा सोमेश्वर में संचालित योजनाओं की बैठक लेते हुए  मंत्री ने सभी विभागों की गहन समीक्षा बैठक की। लोनिवि की समीक्षा के दौरान अधिकारियों द्वारा पूर्ण तैयारी के साथ नहीं आने पर कड़ी नाराजगी जताते हुए चेतावनी दी कि अगली बैठक में पूर्ण तैयारी व अद्यतन डाटा सहित उपस्थित रहें। उन्होंने लोनिवि के अधिकारियों को कार्य प्रणाली में सुधार लाने के निर्देश दिये। उन्होंने विधानसभा के अन्तर्गत आने वाली सड़कों व निर्माणाधीन पुलो की समीक्षा की और समय से कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये। इस बैठक में उपस्थित कई जनप्रतिनिधियों ने क्षेत्र की सड़कों का डामरीकरण न होने की समस्याओं से अवगत कराया। मा0 मंत्री ने मोटर मार्गों के डामरीकरण में गुणवत्ता व नई सड़कों के कार्यों में प्रगति लाने के निर्देश दिये।
बैठक में कई सड़कें वन भूमि हस्तान्तरण के कारण प्रस्ताव लम्बित होने पर उन्होंने लोनिवि व वन विभाग के अधिकारियों को समन्वय बनाने को कहा। उन्होंने सड़कों की नालियों को साफ कराने व दुर्घटना सम्भावित स्थानों पर बोर्ड लगाने के निर्देश लोनिवि के अधिकारियों को दिये। जल निगम व जल संस्थान की समीक्षा के दौरान उन्होंने क्षतिग्रस्त पेयजल योजनाओं को ठीक करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के अन्तर्गत प्रत्येक परिवार को शुद्व जल दिया जाना है उसकी सर्वे ठीक तरीके से की जाय। उन्होंने कहा कि ज्यादा जरूरत वाली योजनाओं में तत्काल धन की माॅग शासन से करें। उन्होंने कहा कि हैण्डपम्प लगाने के लिए जनप्रतिनिधियों के प्रस्तावों पर प्राथमिकता के आधार पर कार्य करें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति तक शुद्व पेयजल मुहैया हो इसका ध्यान रखा जाय। शिक्षा विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होंने जीर्ण-शीर्ण विद्यालयों को ठीक करने व कई विद्यालयों में चाहरदीवारी आदि का कार्य करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने कहा कि मरम्मत हेतु विद्यालयों का प्रस्ताव शासन को भेजा जायेगा व कम बजट वाले प्रस्तावों को जिला योजना में प्रस्तावित करें। लघु डाल व सिंचाई विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होंने क्षतिग्रस्त नहरों व गुलो की मरम्मत करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सिंचाई नहरों में पानी की पर्याप्ता हो यह भी सुनिश्चित करें।
बैठक में उन्होंने कृषि, उद्यान, पशुपालन, बाल विकास, उरेडा, डेयरी, विद्युत आदि विभागों की गहन समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु अधिकारी ग्रामीण क्षेत्रांे का भ्रमण करना सुनिश्चित करें। वही राशनकार्ड को आनलाईन न  होने पर संज्ञान लेने के निर्देश दिये। उन्होंने अधिकारियों को सोमेश्वर बाजार के लिए कूड़ा निस्तारण योजना बनाने के भी निर्देश दिये। बैठक में जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने अधिकारियों को दिये गये निर्देशों का पालन करने को कहा। उन्होंने मंत्री को आश्वस्त किया कि जो भी अपेक्षा की गयी है उसे पूर्ण किया जायेगा। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी मनुज गोयल, प्रभागीय वनाधिकारी महातिम यादव, भाजपा जिलाध्यक्ष रवि रौतेला, जिला पंचायत सदस्य महेश नयाल, धन सिंह रावत, उपजिलाधिकारी सीमा विश्वकर्मा, परियोजना निदेशक नरेश कुमार, जिला विकास अधिकारी के0के0 पंत, मुख्य शिक्षाधिकारी एच0बी0 चन्द के अलावा कई जनप्रतिनिधि व विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

6 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here