टपकेश्वर मंदिर श्रद्धालुओं के लिए तैयार, स्क्रीनिंग के बाद ही मंदिर में मिलेगा प्रवेश

देहरादून। केंद्र सरकार की ओर से गाइड लाइन जारी होने के बाद टपकेश्वर मंदिर श्रद्धालुओं के लिए तैयार होने शुरू हो गया हैं। मंदिर की ओर से स्वयं व्यवस्था की जा रही है। सेनेटाइजिंग मशीन भी खरीद ली गई है। थर्मल स्क्रीनिंग के बिना एक भी श्रद्धालु को मंदिर में प्रवेश नहीं मिलेगा। 
केंद्र सरकार की ओर से आठ जून से धार्मिक स्थलों को खोलने की गाइड लाइन जारी कर दी गई। हालांकि अभी तक स्थानीय प्रशासन की ओर से कोई आदेश इस पर जारी नहीं किया है। लेकिन केंद्र की गाइडलाइन जारी होने के बाद आठ जून से मंदिरों को खोलने की संभावना के चलते तैयारियां जोरशोर से शुरू हो गई हैं।  मंदिर प्रशासन ने स्वयं ही व्यवस्थाओं को बनाना शुरू कर दिया है।
 माता वैष्णो देवी गुफा योग मंदिर टपकेश्वर महादेव गढ़ी कैंट देहरादून में आज उज्जवल शिखर जन कल्याण समिति डाकरा और युवा संगठन पथरिया पीर के सहयोग से सफाई अभियान, सोशल डिस्टेंसिंग के लिए 6 फीट की दूरी पर गोले बनाये गए, सैनिटाइजेशन, भक्तों के लिए सैनिटाइजर मशीन लगाने के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग और स्वच्छता के लिए प्रेरित करने वाले पोस्टर लगाए गए।
मंदिर के संस्थापक आध्यात्मिक गुरु आचार्य विपिन जोशी ने बताया मंदिर में दो-तीन दिन पूर्व से ही सफाई का कार्यक्रम आरंभ कर दिया गया था, आज प्रातः 5:00 बजे से ही युवा संगठन पथरिया पीर के डेढ़ दर्जन से अधिक कार्यकर्ताओं की समर्पित टीम ने संपूर्ण टपकेश्वर महादेव मंदिर परिसर, पवित्र तमसा नदी मैं सफाई अभियान चलाया, पूरे परिसर का सैनिटाइजेशन किया।
उज्जवल शिखर जन कल्याण समिति डाकरा के सहयोग से माता वैष्णो देवी गुफा योग मंदिर में सैनिटाइजेशन मशीन, सोशियल डिस्पेंसिंग के लिए 6 फीट की दूरी में गोले बनाने का कार्य, सोशल डिस्टेंसिंग और स्वच्छता की जागरूकता के लिए पोस्टर लगाने का कार्य किया गया।
आचार्य विपिन जोशी ने बताया कल प्रातः 5:30 बजे आरती के बाद मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए जाएंगे, प्रातः 9:00 कोरोना वायरस की मुक्ति, विश्व शांति के लिए विशेष पूजा-अर्चना और हवन का कार्यक्रम होगा, उन्होंने श्रद्धालुओं से अनुरोध किया बच्चों और बुजुर्गों को मंदिर में ना लाएं,सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, मास्क जरूर पहने और सरकार द्वारा जो एडवाइजरी जारी की गई है उसका पालन करें।
 कार्यक्रम में राहुल चंद, रोहित चंद, बलराम, परवीन, आकाश, राजू ,आशीष, करण, वीरेंद्र जोशी, पंडित सतीश थपलियाल आदि ने सहयोग किया।
मंदिर आने वाले श्रद्धालु रखें ध्यान
1-मंदिर में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ केवल देव प्रतिमाओं के दर्शन की व्यवस्था है।
2-मंदिर में प्रवेश से पूर्व मास्क लगाना अनिवार्य है बिना मास्क या मुंह ढके प्रवेश निषेध है।
3-मंदिर में प्रसाद वितरण, माला,नारियल, आरती का छींटा, जल वितरण, पर अगले आदेश तक रोक है।
4-मंदिर में बाहर से प्रसाद माला नारियल फल, फूल, चुनरी आदि प्रतिबंधित है।
5-मंदिर में मूर्तियों, धार्मिक पुस्तकों, घंटी, ग्रिल, रेलिंग, दीवारों को छूना पूर्ण प्रतिबंधित है।
6-मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं को सेनीटाइज करके अथवा हाथ-पांव साबुन और पानी से धोकर ही प्रवेश दिया जाएगा।
7-मंदिर में कंटेनमेंट जोन, हॉटस्पॉट से आने वाले लोगों का प्रवेश पूर्ण रूप से वर्जित है।
8-मंदिर में बैठकर पाठ करना, कीर्तन करना, समूह मे बैठना प्रतिबंधित है।
9-मंदिर में आने से पूर्व आरोग्य सेतु एप अपने एंड्रॉयड फोन में अवश्य डाउनलोड करें,प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन के आदेशों का पूर्ण रुप से पालन करना अनिवार्य है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here