धनदा ने दिया मुख्यमंत्री राहत कोष 1 करोड़ 21 लाख रुपए

देहरादून। उत्तराखंड में सरकारी तंत्र कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पूरी मुस्तैदी से खड़ा नजर आ रहा है। वहीं सूबे के राज्य मंत्री धन सिंह रावत भी प्रदेश के तमाम अस्पतालों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे हैं। देहरादून के घंटाघर पहुंचे धन सिंह रावत ने बताया कि वह 37 अस्पतालों का जायजा लेकर आए हैं और अस्पतालों में भारत सरकार और राज्य सरकार ने बेहतर इंतजाम किए हैं। मंत्री धन सिंह ने बताया कि अस्पतालों में की गई व्यवस्थाओं से लोग खुश हैं। यही नहीं अस्पतालों का जायजा लेने के बाद वह खुद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से भी मिलने गए थे। क्योंकि बैंकों ने एक करोड़ 21 लाख रुपए मुख्यमंत्री राहत कोष में दिए हैं। लिहाजा, प्रदेश के व्यवसाय क्षेत्रों और अपर क्लास लोगों से अपील कर रहे हैं कि वह लोग भी मुख्यमंत्री राहत कोष में अपनी सुविधानुसार दान करें। ताकि प्रदेश के गरीबों और असहाय लोगों की मदद हो सके। राज्य मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड की स्थिति बेहतर थी, लेकिन जमातियों के चलते प्रदेश में 20 मामले बढ़ गए हैं। जिसके चलते मुख्यमंत्री और डीजीपी ने जमातियों से कहा है कि वह सरकार का सहयोग करें, लेकिन जो जमाती सरकार का सहयोग ना कर अपने आपको क्वॉरंटाइन नहीं करेगा। उस पर मुकदमा किया जाएगा। हालांकि अब बाहर से आए जमातियों ने सहयोग की बात की है और उनका परीक्षण हो इस पर भी बात हो रही है। राज्य मंत्री ने कहा कि उन्होंने 37 अस्पतालों का निरीक्षण किया है। कहीं भी पीपीई किट की कमी नहीं देखी गई है और ना ही किसी भी अस्पताल में मास्क की कमी है। हालांकि यह जरूर है ग्रामीण क्षेत्रों में लोग चाहते हैं कि उन्हें भी मास्क उपलब्ध कराया जाए. मास्क की व्यवस्था की जा रही है। वर्तमान समय में कहीं भी कोई दिक्कत नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here