जनता कर्फयू पर गाया जागरूकता गढ़वाली गीत पीएम मोदी को भाया 

देहरादून। उत्तराखण्ड के सुप्रसिद्ध लोकगायक प्रीतम भरतवाण के जनता कर्फ्यू पर गाये जागरूकता वाला गढ़वाली गीत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी गया। पीएम ने ट्वीट कर कहा कि प्रीतम ने जनता कर्फ्यू को लेकर एक अनोखा और बेहद सुरीला संदेश देकर देश की जनता को जागरूक किया है। पीएम के ट्वीट के बाद सोशल मीडिया में प्रीतम का यह गीत छा गया।
पदमश्री लोकगायक प्रीतम भरतवाण ने अपने सोशल मीडिया के पेज पर कोरोना वायरस के बचाव और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जनता कर्फ्यू की अपील के बाद गढ़वाली बोली में जागरूकता करने वाले दो गीत शेयर किये थे। इस गीत को प्रीतम ने अपने घर पर हारमोनियम बजाते हुए शूट किया है। गीत में प्रीतम ने देश की जनता से अपील करते हुए गया कि, कोरोना की महामारी जड़ से मिटई दयावा, भोत जरूरी न हो त, घर से भैर न जावा३, इस गीत में पीएम मोदी की जनता कर्फ्यू का भी उल्लेख किया गया है। प्रीतम के फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम पेज पर इस गीत को हजारों की संख्या में शेयर और लाइक किया गया। 22 मार्च को 10 बजे के करीब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस गीत को ट्वीट किया। पीएम ने अपने ट्वीटर पर लिखा कि जनता कर्फ्यू को लेकर लोक गायक प्रीतम भरतवाण ने एक अनोखा और बेहद सुरीला संदेश दिया है। पीएम के ट्वीट करते ही इस संदेश और प्रीतम के गीत को दो घण्टे के भीतर 30 लाख से ज्यादा लोगों ने देखा, शेयर किया, लाइक किया और कमेंट किये हैं। लोक गायक प्रीतम के पेज और सोशल मीडिया में इस गीत को लेकर लोग तारीफ करते दिखे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here