आरुषि बोली, युवा उद्यमियों को करना चाहिए नयी सोच और तरीको का इस्तेमाल

देहरादून। फिक्की फिक्की फ्लो के उत्तराखंड चैप्टर ने प्रभावशाली नेतृत्व और सफलता का दृष्टिकोण विषय पर राष्ट्रीय वेबिनार आयोजित किया। इस वेबिनार की मुख्या अतिथि अंतराष्ट्रीय कथक नृत्यांगना ,फाउंडर स्पर्श गंगा, एनवायरमेंट एक्टिविस्ट, समाज सेविका, फिल्म प्रोडूसर और उद्यमी आरुषि निशंक रही। इस वेबिनार चर्चा का मुख्या विषय प्रभावशाली नेतृत्व और सफलता का दृष्टिकोण रहा, जिसमे कि सौ से अधिक महिला उद्यमी तथा विभिन्न क्षेत्रो में काम करने वाली महिलाओं ने भाग लिया। वक्ताओं ने महिलाओं को सशक्त बनाना और उन्हें इन कठिन समय के दौरान नेतृत्व की भूमिका निभाने के लिए प्रेरित करना क्योंकि वे हमारी अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं विषय पर भी अपने विचार रखे । इन्होने इस परिचर्चा में भाग लेने वाली सभी सदस्यों से आग्रह किया कि स्थानीय उत्पादों का प्रयोग करे और उनको ज्यादा से ज्यादा खरीदे ताकि स्थानीय किसानो और कारीगरों जो कि विभिन्न प्रकार के स्थानीय उत्पाद बनाते है उनकी बिक्री हो और उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत हो सके स्पर्श गंगा कैंपेन में जुड़े उत्तराखंड के पांच लाख से अधिक स्थानीय किसानो के द्वारा किये गए कार्यो और सहयोग की भी चर्चा की गयी ।
इस अवसर पर, उत्तराखंड चैप्टर के फिक्की फ्लो की अध्यक्ष किरण भट्ट टोडरिआ ने कहा, मुझे बेहद खुशी है कि हमारा फिक्की फ्लो के उत्तराखंड चैप्टर अपने सदस्यों को दैनिक जीवन से जुड़े विभिन्न विषयो पर परिचर्चा करवाता है तथा उन्हें सही सलाह और जानकारियां समय समय पर पहुँचता रहता है । जिससे की वे अपने जीवन को सफल बना सके। आज का विषय प्रभावशाली नेतृत्व और सफलता का दृष्टिकोण है । जिस पर सभी सदस्यों ने परिचर्चा की है मेरा मानना कि पैसे कामना और जीवका चलना तो आसान है पर कुछ अलग से समाज के लिए करना थोड़ा कठिन है  इसलिए सभी सदस्यों के साथ समय समय पर वेबिनार का आयोजन किया जाता है ताकि उनके अंदर आत्मविश्वास और समाज के लिए कुछ करने का जज्बा कायम हो । हमारे संस्थान का उद्देश्य महिलाओं को सशक्त , स्वाबलंबी और आत्मनिर्भर बना है जिसके लिए फिक्की फ्लो के उत्तराखंड चैप्टर का नारा है ‘सशक्त करने की शक्ति’। इस वेबिनार मुख्य अतिथि  आरुषि निशंक ने कहा मुझे बहुत खुशी हो रही है कि इस वेबिनार का जो विषय है उस पर मैं अपने विचार व्यक्त कर रही हूँ। जबकि पुरे देश में आत्मनिर्भर भारत की बात हो रही है। किसी भी अच्छे नेतृत्व का सबसे बड़ा गुण यह होता है कि नेतृत्व करने वाला तथा उसके साथ काम करने वालो को अपने लक्ष्य तक पहुंचने के लिए सफलता कैसे प्राप्त होती। जिससे कि सभी के जीवन में परिवर्तन आ जाता है और वे अपने लक्ष्यो तक कितनी जल्दी पहुंच सकते है। अब हर भारतीय को इस प्रकार के गुणों को विकसित करना होगा जो की यह सुनिश्चित कर सके कि इस कोविड 19 माहमारी द्वारा उत्पन चुनौतियां को हरा सके। इस लिए अब यह जरूरी हो जाता है की युवा उद्यमियों को नयी सोच और तरीको का इस्तेमाल करते हुए वर्तमान में आयी चुनोतियो को हरा सके। डॉ. नेहा शर्मा, उपाध्यक्षा, फिक्की फ्लो उत्तराखंड चैप्टर, ने चर्चा करते हुए कहा आज के वेबिनार के विषय का मुख्या उद्देश्य महिला उद्यमियों को और मजबूत, आत्मनिर्भर बनाना है जिसके लिए उन्हें कड़ी मेहनत करनी होगी ताकि वे अपने व्यवसाय में उत्तम प्रदर्शन कर सकें। वेबिनार में 100 से अधिक सदस्यों ने भाग लिया। सिंगर, कम्पोजर, एंकर और वॉइस ओवर आर्टिस्ट लिली भट्ट ने इस वेबिनार की मध्यस्थ की। किरण भट्ट टोडरिया, अध्यक्षा फिक्की फ्लो उत्तराखंड चैप्टर, सुश्री कोमल बत्रा, वरिष्ठ उपाध्यक्षा फिक्की फ्लो उत्तराखंड चैप्टर, डॉ. नेहा शर्मा, उपाध्यक्षा, फिक्की फ्लो उत्तराखंड चैप्टर, गौरी सूरी, सेक्रेटरी फिक्की फ्लो उत्तराखंड चैप्टर, तृप्ति बहल, संयुक्त, सचिव फिक्की फ्लो उत्तराखंड चैप्टर,  रूचि जैन, कोषाध्यक्षा, फिक्की फ्लो उत्तराखंड चैप्टर, चारु चैहान संयुक्त कोषाध्यक्षा, फिक्की फ्लो उत्तराखंड चैप्टर और अन्य ने वेबिनार में भाग लिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here