निशंक ने की उत्तराखंड में बन रहे एनआईटी पर समीक्षा बैठक 

नई दिल्ली। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने सुमाड़ी, उत्तराखंड, में बन रहे राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) के कार्यान्वन और क्रियान्वन की समीक्षा बैठक की। बैठक में एनआईटी, खासकर 2010 में स्थापित किये गए 10 नए संस्थानों की समीक्षा की गई।

इस अवसर पर माननीय मंत्री ने कहा “केंद्रीय कैबिनेट ने 2019-20 में राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थानों को स्थापित करने के लिए 1800 करोड़ रुपये दिए गए हैं. मुझे यह बताते हुए बेहद गर्व और ख़ुशी हो रही है कि त्रिची, सूरतकल, वारंगल, जयपुर, राउरकेला और गोवा की एनआईटी संस्थाओं ने एनआईआरएफ रैंकिंग में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। मैं उन सभी संस्थाओं को बधाई देता हूँ और बाकि संस्थाओं को अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहता हूँ। मानव संसाधन विकास मंत्रालय देश भर के शिक्षण संस्थानों में उत्कृष्ट शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है और इस संबंध में सभी जरूरी कदम उठाये जायेंगे।

इस बैठक में अधिकारियों को सभी एनआईटी परिसरों को सभी सुविधाओं से लैस करने और इसके रास्ते में आने वाली सभी बाधाओं को दूर करने को कहा गया. सुमाड़ी में बन रहे एनआईटी के परिसर में एक केंद्रीय विद्यालय बनाने की भी बात की गई।

इस अवसर पर मंत्रालय की वित्त सचिव श्रीमती दर्शन डबराल, अपर सचिव  मदन मोहन, केंद्रीय विद्यालय कमिश्नर  संतोष मल, संयुक्त सचिव  स्वीटी चांसन और अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here