एफआईआर दर्ज करने के विरोध में कांग्रेस का धरना

देहरादून। कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ कर्नाटक में एफआईआर दर्ज किये जाने के खिलाफ उत्तराखण्ड कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में कांग्रेसजनों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए प्रदेष कांग्रेस कमेटी कार्यालय प्रांगण में धरना दिया। धरने में उपस्थित बडी संख्या में कंाग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा सरकार एवं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कांग्रेसजनों ने इस कार्रवाई को केन्द्र की मोदी सरकार के इषारे पर राजनैतिक प्रतिशोध एवं बदले की भावना से कांग्रेस के शीर्ष नेताओं के उत्पीड़न की कार्रवाई बताया।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ कर्नाटक में एफआईआर दर्ज किया जाना कोरोना महामारी में केन्द्र सरकार की नाकामी को छुपाने के लिए विपक्षी दल के नेताओं के खिलाफ बदले की भावना से राजनैति षडयंत्र के तहत फर्जी मुकदमें दर्ज कर उनका उत्पीड़न किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार के इषारे पर कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेताओं पर अलोकतांत्रिक तरीके से मुकदमें दर्ज किये जा रहे हैं, जो निन्दनीय है, जिसकी कांग्रेस पार्टी कडे शब्दों में भर्तसना करती है। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार के इशारे पर लोकतंत्र के सभी मानकों एवं मापदण्डों पर कुठाराघात करते हुए अलोकतांत्रिकता का अपना घिनौना चेहरा सबके सामने लाते हुए कांग्रेस पार्टी के षीर्श नेतृत्व को जनता की आवाज उठाने से रोकने के लिए उनके विरूद्ध झूठे मुकदमें दर्ज कर उन्हें प्रताड़ित एवं अपमानित किया जा रहा है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि सोनिया गांधी जी एवं अन्य कांग्रेस नेताओं के खिलाफ प्रतिशोध की राजनीति के तहत एफआईआर दर्ज किया जाना निन्दनीय एवं दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि हम लोकतांत्रिक देष के निवासी हैं तथा लोकतंत्र में विपक्ष को सवाल उठाने का पूरा अधिकार है। श्रीमती सोनिया गांधी द्वारा उठाये गये मामले का समर्थन करते हुए प्रीतम सिंह ने कहा कि जब पीएम केयर्स फण्ड में पैसा आया है तो उस पैसे से कोरोना महामारी की त्रासदी झेल रहे गरीबों, किसानों एवं श्रमिकों की मदद क्यों नहीं की जा रही है। उन्होंने यह भी कहा कि पीएम केयर्स फण्ड में आये पैसे का हिसाब जनता को पूछने का अधिकार है तथा सरकार को बताना चाहिए कि केन्द्र सरकार ने इस पैसे का क्या उपयोग किया? उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी शासित राज्य सरकारों द्वारा कोरोना महामारी में अपनी विफलताओं को छिपाने तथा अपने भ्रष्टाचार को दबाने के लिए जिस प्रकार की कार्रवाई की जा रही है वह भाजपा सरकारों के अलोकतांत्रिक एवं तानाशाही रवैये को उजागर करती है। उन्होंने कहा कि भाजपा के इस षड़यंत्र का कांग्रेस के कार्यकर्ता एकजुट होकर डटकर मुकाबला करेंगे तथा हर स्तर पर जनता की आवाज को उठाने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार के इशारे पर मुख्य विपक्षी दल के नेताओं के साथ की जा रही कार्रवाई स्वस्थ लोकतंत्र की परम्परा के लिए शुभ संकेत नहीं माना जा सकता है। यह कार्रवाई भारतीय जनता पार्टी के फासीवादी एवं तानाशाही चरित्र का द्योतक है, जिसे लोकतंत्र में विश्वास रखने वाला कोई भी दल सहन नहीं करेगा। भारतीय जनता पार्टी तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अपने इस कृत्य के लिए कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से माफी मांगनी चाहिए तथा उनके विरूद्ध लगाये गये झूठे मुकदमों को वापस लिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस इस प्रकरण की कडे शब्दों में निन्दा करते हुए सोनिया गांधी के खिलाफ दर्ज किये गये मुकदमे को वापस लेने की मांग करती है। इस अवसर पर पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय, प्रदेश महामंत्री संगठन विजय सारस्वत, प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना, प्रदेष उपाध्यक्ष आर्येन्द्र शर्मा, पूर्व मंत्री शूरवीर सिंह सजवाण, प्रदेश महामंत्री हरिकृष्ण भट्ट, प्रदेश महामंत्री नवीन जोशी, प्रदेश महामंत्री राजेन्द्र शाह, गोदावरी थापली, पूर्व मंत्री अजय सिंह, विशेष आमंत्रित सदस्य सुभाष चौधरी, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा पूर्व विधायक राजकुमार, जिलाध्यक्ष गौरव चौधरी, जिलाध्यक्ष संजय किशोर, प्रभुलाल बहगुणा प्रदेश सचिव राजेश शर्मा, शोभाराम, नवीन पयाल, सीताराम नौटियाल, गिरीश पुनेड़ा, संदीप चमोली निवर्तमान प्रवक्ता गरिमा दसौनी, प्रदेश सचिव शांति रावत, मंजुला तोमर, राजेश चमोली, सूरत सिंह नेगी, कमर खान, सुनित राठौर, अमरजीत सिंह भरत शर्मा, उर्मिला थापा, दीवान सिंह तोमर, अशवनी बहुगुणा,, नागेश रतूड़ी, महेश जोशी, जगदीश धीमान, धर्मसिह पंवार, महानगर महिला अध्यक्ष कमलेश रमन, मंजू त्रिपाठी, विकास नेगी, विजय रतूड़ी, पुष्कर सारस्वत, सूर्यप्रताप सिंह राणा, लाखीराम बिजल्वाण, कुल्दीप चौधरी, भूपेन्द्र नेगी, संदीप कुमार, प्रणीता बडोनी, मोहन काला, सावित्री थापा, मोहित नेगी, अभिनन्दन शर्मा, जगदीश चौहान, अनुराधा तिवारी,, सुलेमान अली, आशीष सक्सेना, अजय रावत, अनिल बसनेत, सहित अनेक कांग्रेसजन उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here