धनदा बोले, उच्च शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार पर विशेष प्रयास किया जायेगा

देहरादून। उच्च शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ0 धन सिंह रावत ने विधान सभा सभाकक्ष में उच्च शिक्षा विभाग के संबंध में बैठक की। डाॅ0 धन सिंह रावत ने कहा कि उच्च शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार पर विशेष प्रयास किया जायेगा तथा काॅलेजों के इन्फ्रास्ट्रक्चर को मजबूत किया जायेगा। उच्च शिक्षा उन्नयन समिति की बैठक में उन्होंने कहा कि सबको शिक्षा, अच्छी शिक्षा राज्य सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट है। काॅलेज को पूर्ण फैकल्टी, लैब, स्मार्ट क्लास की सुविधा से युक्त किया जायेगा तथा 2020 दिसम्बर तक 90 प्रतिशत काॅलेज अपने भवनों में शिफ्ट हो जायेंगे। प्रत्येक जनपद में माॅडल काॅलेज भी बनाया जायेगा। केन्द्र सरकार की काॅलेजों में एक भारत, श्रेष्ठ भारत, खेलो इण्डिया, स्वच्छता अभियान पर भी बल दिया जायेगा। उच्च शिक्षा पोर्टल पर काॅलेज की गतिविधियों संबंधी जानकारी मिलेगी और इस पर अपनी शिकायतें भी दर्ज की जा सकती हैं। डाॅ0 धन सिंह रावत ने कहा कि क्लास रूम में मोबाईल प्रतिबंधित करने के लिए शिक्षक, छात्र और अभिभावकों से सलाह ली जायेगी तथा इस विषय पर सर्वसम्मति से निर्णय लिया जायेगा। तीन दिवसीय सभी काॅलेजों के टीचर्स ट्रेनिंग की व्यवस्था दो चरणों में मार्च 2020 तक पूर्ण कर ली जायेगी, इसमें पूर्व निदेशक को भी आमंत्रित किया जायेगा। टीचर्स ट्रेनिंग के लिए देहरादून में अटल अकादमी भी बनायी जायेगी। इस अवसर पर निदेशक उच्च शिक्षा प्रो0 एनपी माहेश्वरी, पूर्व उच्च शिक्षा निदेशक डाॅ.एस.सी.पंत, डाॅ. सविता मोेहन और डाॅ. एम.सी. त्रिवेदी आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here