सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने पर धीरेंद्र प्रताप ने राज्यपाल से की शिकायत

देहरादून। भाजपा मुख्यालय में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने पर धीरेंद्र प्रताप ने लिखा राज्यपाल बेबी मौर्य को पत्र लिखकर कहा कि संविधान के संरक्षक के रूप में राज्य में सभी के लिए समान आचार संहिता लागू करने के दे सख्त निर्देश दें। उत्तराखंड कांग्रेस के उपाध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप ने आज देहरादून में भारतीय जनता पार्टी मुख्यालय में रुड़की के मेयर गौरव गोयल और उनके सैकड़ों साथियों की भाजपा में वापसी के वक्त मुख्यमंत्री और भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं की उपस्थिति में सोशल डिस्टेंसिंग कानून की धज्जियां उड़ाने की ओर राज्यपाल बेबी मौर्य का ध्यान आकर्षित करते हुए पत्र लिखा है और महामहिम से मांग की है कि वह राज्य में तमाम लोगों के लिए समान आचार संहिता लागू करने के लिए सरकार को सख्त निर्देश दें।
धीरेंद्र प्रताप ने कहा है कि जिस तरह से मुख्यमंत्री की उपस्थिति में सोशल डिस्टेंसिंग कानून की धज्जियां उड़ाई गई और मुख्यमंत्री और भाजपा के अन्य नेता खामोशी से इसको देखते रहे उससे साफ जाहिर होता है कि भाजपा राज में कांग्रेस के लोगों के लिए अलग कानून है और भारतीय जनता पार्टी के लिए अलग कानून है। उन्होंने इस मामले में पिछले दिनों कांग्रेस अध्यक्ष श्री प्रीतम सिंह और राज्य के अन्य हिस्सों में भी पार्टी के कई नेताओं पर सोशल डिस्टेंसिंग कानून का उल्लंघन करने के मुकदमे दर्ज किए जाने की ओर राज्यपाल का ध्यान आकर्षित करते हुए राज्यपाल से मांग की है या तो वे सारे मुकदमे वापस लिए जाएं या भाजपा के तमाम शीर्ष नेताओं के खिलाफ जो भी आज इस बैठक में शामिल थे उनके खिलाफ भी मुकदमे दर्ज किए जाएं और उन्हें दंडित किया जाए ताकि सरकार में बैठे और कानून बनाने वाले लोग किस तरह से कानून का उल्लंघन कर रहे हैं, उन्हें भी इसका ज्ञान हो सके। उन्होंने उम्मीद जाहिर की की राज्यपाल भाजपा कार्यकर्ता के रूप में नहीं बल्कि संविधान के संरक्षक के रूप में राज्य में कानून के नियमों की समान रूप से लागू किए जाने की प्रक्रिया को बहाल करेंगी और जो भी लोग गलती कर रहे हैं उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश देंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here