धनराशि हर हाल में मार्च प्रथम सप्ताह तक व्यय करना सुनिश्चित करें

????????????????????????????????????
देहरादून। जिला कार्यालय सभागार में जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में जिला योजना, राज्य योजना, केन्द्रपोषित वाह्य सहायतीत एवं बीस सूत्रीय कार्यक्रमों में अभी तक प्राप्त की गयी प्रगति की समीक्षा की गयी। बैठक में जिला योजना की समीक्षा के दौरान कई विभागों द्वारा अभी तक लक्ष्य से काफी कम धनराशि व्यय करने पर नाराजगी जताते हुए जिलाधिकारी ने जिला योजना में संतृप्त विभागीय अधिकारियों को सख्त हिदायत दी की जिला योजना अन्तर्गत आंवटित धनराशि हरहाॅल में मार्च प्रथम सप्ताह तक व्यय करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जिला योजना के अन्तर्गत किसी भी विभाग द्वारा कोई भी धनराशि समर्पित नही की जायेगी, धनराशि समर्पित करने वाले विभागध्यक्षों के विरूद्ध आवश्यक कार्यवाही की जायेगी। राज्य योजना की समीक्षा के दौरान कई विभागों द्वारा व्यय की गयी धनराशि को नाकाफी बताते हुए यदि विभागों को धनराशि की आवश्यकता नही है तो वे विभाग मार्च प्रथम सप्ताह तक धनराशि समर्पित करने की कार्यवाही करें। उन्हेांने जिला पंचायतराज अधिकारी को जिला योजनान्तार्गत धनराशि निर्धारित समय में व्यय करने के लिए कालसी में ही चकराता के ग्राम विकास अधिकारियों को पी.एफ.एम.एस का सैद्धान्तिक प्रशिक्षण देना सुनिश्चित करें। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अभियन्ताओं से मसूरी में निर्माणाधीन पार्किंग को पूर्ण करने के लिए भरसक प्रयास करने की आवश्यकता जताई। केन्द्र पोषित, वाह्य सहायतीत योजनाओं की समीक्षा के दौरान उन्होंने अधिकारियों को सरकार की योजनाओं का लाभ सीधे जनता तक पंहुचाये जाने पर बल देते हुए कहा कि जनता की सेवा उनकी प्राथमिकता में है, जिसके लिए सभी अधिकारी रचनात्मक सहायोग करें। बीस सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि जो विभाग अभी तक ए श्रेणी में हैं वे फिसलने न पायें तथा ग्रामीण पेयजल, छूटी हुई बसावटे, अनुसूचित जनजाति परिवारों की सहायता, क्रियाशील आंगनबाड़ी, पीएमजीएसवाई मदों में बेहतर कार्य कर पिछड़े इन विभागों को ए श्रेणी में लाने का भरसक प्रयास करें। बैठक में जिलाधिकारी ने अर्थ एवं संख्या अधिकारी को निर्देशित किया कि जिला योजना की समीक्षा बैठक में मुख्य कोषाधिकारी को भी आमंत्रित करें ताकि विभागों द्वारा व्यय की गयी धनराशि के सम्बन्ध में प्रगति जानी जा सके। जिलाधिकारी ने बताया कि आगामी महिला दिवस से पूर्व के दिन 7 मार्च को सभी शासकीय विभागों में शासकीय कार्यों के सम्पादन एवं जनता से व्यवहार व विभागीय कार्यशैली की जानकारी दिये जाने हेतु छात्राओं को कार्यालय में भेजा जायेगा, विभागीय अधिकारी इन छात्राओं को शासकीय क्रियाकलापों की जानकारी उपलब्ध करायेंगे। समीक्षा बैठक में नवागत मुख्य विकास अधिकारी नीतिका खण्डेलवाल, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ मीनाक्षी जोशी, मुख्य शिक्षा अधिकारी आशारानी पैन्यूली, जिला विकास अधिकारी प्रदीप पाण्डेय, जिला पंचायत राज अधिकारी एम जफर खान, अधिशासी अभियन्ता लो.नि.वि जे.एस चैहान, अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान नमित रमोला, जल निगम मीसा सिन्हा, जिला पूर्ति अधिकारी जसंवत कण्डारी समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here